swayam sahayata samuh ki jankari |स्वयं सहायता समूह की जानकारी

अगर आप एक ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं और अब स्वयं सहायता समूह में जुड़ना चाहते हैं या फिर आप स्वयं सहायता समूह में जुड़े हुए हैं और आप स्वयं सहायता समूह की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप सभी लोगों को हमारा यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा
 

स्वयं सहायता समूह क्या है

एक ही गांव के रहने वाले छोटे-छोटे आए वर्ग की महिलाओं जो एक साथ रख अपना खुद का समूह बनाती हैं स्वयं इच्छा से स्वयं सहायता समूह में बचत कर कर अपनी आवश्यकताओं को पूरा करती है राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़कर व सभी महिलाएं स्वयं सहायता समूह बनाकर आत्मनिर्भर बनती है एक समूह में 10 से 20 महिलाओं का सदस्य होता है वह सभी महिलाएं अपनी इच्छा से समूह बनाती हैं


राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा चलाया जा रहा है यह जून 2011 को शुरू किया गया था ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा आप लोगों को बता दें कि इस योजना के जरिए देश में रहने वाले 7 करोड से भी अधिक स्वयं सहायता समूह में महिलाओं को रोजगार देकर उनको आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है और उनको आत्मनिर्भर बनाया जा चुका है आप सभी महिलाएं स्वयं सहायता समूह में जुड़ कर अपने कौशल और ट्रेनिंग पाकर स्वयं सहायता समूह में नौकरी प्राप्त कर सकती हैं किसी भी प्रकार का कोई भी रोजगार प्राप्त कर सकते हैं और आत्मनिर्भर बन सकती हैं

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन किन किन राज्यों में चलाया जा रहा है

आप सभी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को मैं बता देना चाहता हूं कि अगर आप सभी महिलाएं किसी भी राज्य की महिला है तो आप सभी लोग अपनी राज्य में चल रहे राज्य मिशन की जानकारी प्राप्त कर सकती हैं इसके लिए आप सभी लोगों को अपने राज्य के मिशन के अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा
आज सब लोगों को बता देगी या योजना प्रत्येक राज्य में चलाए जा रहे हैं जैसे बिहार ग्रामीण आजीविका मिशन, झारखंड राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, महाराष्ट्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, उड़ीसा आजीविका मिशन, गुजरात आजीविका, छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, राजस्थान राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, नागालैंड राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका, हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका, मिशन जम्मू कश्मीर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, कर्नाटक राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, इन सभी नामों से प्रत्येक राज्य में चलाए जा रहे हैं स्वयं सहायता समूह अगर आप सभी महिलाएं इन्हीं में से जिस किसी आज में आप रहती हैं आप अपने ब्लॉक पर जाकर कार्यालय के अधिकारी से बात कर कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के जरिए आप स्वयं सहायता समूह में जुड़ सकती हैं

स्वयं सहायता समूह में कौन-कौन सी महिलाएं जुड़ सकती है 

अगर आप सभी मिला राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में जुड़ना चाहती हैं तो आप सभी महिलाओं की उम्र 20 से 40 वर्ष के बीच में होना जरूरी है आप सभी महिलाएं कम पढ़ी लिखी होनी चाहिए आप उसी गांव की महिलाओं जिस गांव में आप स्वयं सहायता समूह में जुड़े हुए हैं आप लोगों इमानदार हो आप शादीशुदा महिला हो आप समूह में समय का पालन करती हो आप एक गरीब परिवार की महिला हो तभी आप स्वयं सहायता समूह में जोड़ सकती हैं और स्वयं सहायता समूह चला सकती हैं

अगर आप सभी को हमारी यह जानकारी पसंद आए तो हमारे वेबसाइट को फॉलो अवश्य करें किसी भी प्रकार की कोई भी समस्या है तो हमें कमेंट जरूर करें

Leave a comment

Your email address will not be published.