ग्राम संगठन में रसीद पुस्तक कैसे लिखें

 ग्राम संगठन में रसीद पुस्तक किसे कहते हैं प्रसिद्ध पुस्तक लिखने के फायदे और साथ ही साथ रचित पुस्तक लिखने का तरीका इन के बारे में आज हम इस आर्टिकल में बात करेंगे आइए जानते हैं विस्तार से इस आर्टिकल की मदद से पूरी जानकारी विस्तार से

 

 

ग्राम संगठन में रसीद पुस्तक किसे कहते हैं

 ग्राम संगठन में नगर स्वयं सहायता समूह को अन्य संस्थाओं को ग्राम संगठन को नगद या चेक प्राप्त होने के समय में दिया जाने वाला पत्र को रसीद पुस्तक कहते हैं

 ग्राम संगठन में रसीद पुस्तक लिखने का तरीका

 1. रसीद के ऊपर ग्राम संगठन का नाम गाँव का नाम, संकुल का नाम, प्रखण्ड का नाम, जिला का नाम राज्य का नाम लिखना चाहिए।

2. बैठक का दिनांक लिखना चाहिए।

 3. नगद या चेक भुगतान किए गए व्यक्ति या संस्था का नाम, पता लिखना चाहिए।

4. प्राप्त का अंप के सामने प्राप्त कुल राधि लिखना चाहिए।

5. उस दिन प्राप्त हुआ कुल जोड़कर नीचे लिखना है उसके नीचे अक्षरों में भी लिखना चाहिए।

6. चेक रूप से प्राप्त होने से चेक का कमांक, चेक का दिनांक लिखना चाहिए।

 7. नीचे दाऐं तरफ ग्राम संगठन का मुहर लगाकर अध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष का  हस्ताक्षर करना चाहिए।

8. नीचे बाए तरफ ग्राम संगठन की सहायिका (V.O.A) का हस्ताक्षर करना चाहिए।

9. एक ही दिन में एक ही व्यक्ति या संस्था से प्राप्त हुए सभी प्रकार के कुल राशि को एक रसीद लिखकर देना चाहिए।

10. कार्बन पेपर उपयोग करके दो पन्ना लिखना चाहिए पहला पन्ना (असली पन्ना) भुगतान किए गए समूह या व्यक्ति को देना चाहिए, दूसरा पन्ना (कार्बन कॉपी पन्ना) ग्राम संगठन में रखना चाहिए।

 ग्राम संगठन में रसीद पुस्तक लिखने का फायदा

 a) रसीद नगद / चेक भुगतान किए गये व्यक्तियों को या संस्थाओं को सबूत उपयोग होता है।

b) नगद पुस्तक में प्राप्त की ओर लिखने के लिए उपयोग होता है।

 ग्राम संगठन में रसीद पुस्तक का नमूना

                                                                                                  

                                                           रसीद नमूना

 क्रमांक : 555003                                                                              दिनांक : ——————–

 

—————-समूह/C.L.F/व्यक्ति से प्राप्त हुआ है

क्रम.

विवरण

कुल 

1.

सदस्यता शुल्क

            —–

2.

हिस्साघन

                —

3.

ऋण किस्त राशि

            1000

4.

ऋण पर ब्याज

            300

5.

दंड

                  —-

6.

संकुल स्तरीय संगठन से ऋण

                  —-

7.

अन्य

                    —–


कुल

                  1300


अक्षरों में मात्र एक हजार तीन सौ रूपये नगद चेक नंबर———–दिनांक——————–रूप से प्राप्त हुए हैं

 ग्राम संगठन सहायिका     अध्यक्ष/सचिव/कोषाध्यक्ष 

    का हस्ताक्षर              ग्राम संगठन का मुहर     

 

  अगर आप सभी लोगों को हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो हमारे वेबसाइट को फॉलो अवश्य करें किसी भी प्रकार की कोई भी समस्या है तो हमें कमेंट जरूर करें प्लीज कमेंट करें आपको कौन-कौन सी जानकारियां चाहिए समूह से जुड़ी तभी हम आपकी हेल्प कर सकेंगे

 यह भी पढ़ें 👉ग्राम संगठन ने वाउचर पुस्तक कैसे लिखें

                 222222222222222222222222222222222222222222222222222222

Leave a comment

Your email address will not be published.