स्वयं सहायता समूह में  FLCRP सखी की नई नौकरी 2022

स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को बहुत बड़ी खुशखबरी स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी की नई नौकरी आ गयी  है अगर आप सभी स्वयं सहायता समूह की महिलाएं इस नौकरी को पाना चाहती हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना होगा आइए जानते हैं इस आर्टिकल के माध्यम से पूरी जानकारी विस्तार से
 
स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी
स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी

 

स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी किसे कहते हैं

स्वयं सहायता समूह में पैसे लेनदेन करने ब्याज और बिमा इन सभी की ट्रेनिंग की जानकारी देना FLCRP सखी  की नौकरी होती है




स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी की परिभाषा 

FLCRP ⟶  Financial Literacy Community Resource Person
 
स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी को वित्तीय साक्षरता प्रदान करने वाली महिला को FLCRP सखी कहते हैं

स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी का क्या काम होता है

 
स्वयं सहायता समूह से निकल कर आई हो और वित्तीय सार्थकता प्रदान करने का काम करती हो 
जैसे➡
 
  • स्वयं सहायता समूह में खाता खोलने का काम
  • स्वयं सहायता समूह में बीमा करने का का
  •  स्वयं सहायता समूह में पैसे निकालने का काम
  • स्वयं सहायता समूह में अपने स्वयं के समूह में जो पैसा का लेनदेन सही से नहीं हो पा रहा है उसके ब्याज का जो भी लाभ या हानि हो रही है उन सभी की जानकारी देना  FLCRP सखी का काम होता है




स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी की आवश्यकताएं क्या क्या होती है

 वित्तीय साक्षरता (FLCRP) का चयन एक वर्ष पुराने गहन ब्लॉक से किया जाएगा।
 
• 2. प्रत्येक गहन ब्लॉक से 20-25 वित्तीय साक्षरता (एफएल)-सीआरपी का चयन किया जाएगा।
 
• 3. वित्तीय साक्षरता (FLCRP) एक SHG सदस्य होना चाहिए।
 
• 4. अपने एसएचजी में कम से कम 52 साप्ताहिक बैठकों में भाग लिया।
 
5. न्यूनतम शिक्षा 10वीं पास और बुनियादी गणितीय गणना में अच्छा।
 
• 6. उसकी आयु 20 – 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
 
मौजूदा कम्युनिटी ट्रेनर्स को वरीयता।
 

योग्यता मापदंड

 
• 8. वह क्लस्टर/ब्लॉक में कहीं भी काम करने को तैयार है। गांव से बाहर जाना चाहते हैं।
 
• 9. वह वित्तीय साक्षरता पर 10-15 दिनों के प्रशिक्षण के लिए तैयार है।
 
• 10. वह ‘ए’ ग्रेड एसएचजी से होनी चाहिए।



स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी की क्या-क्या योग्यताएं हैं

 UPSRLM द्वारा प्रदान की गई अनुसूची और मॉड्यूल के अनुसार चरणबद्ध तरीके से वित्तीय साक्षरता पर ‘SHG Leaders’ को विस्तृत     प्रशिक्षण प्रदान करेगी।
 
• 1. चरण एफएल-सीआरपी टीम के रूप में एक गांव में जाएगी और उस गांव के सभी एसएचजी सदस्यों को वित्तीय योजना और                विभिन्न बैंकिंग चैनलों पर प्रशिक्षित करेगी। प्रशिक्षण की अवधि 3-4 घंटे की होगी।
 
• 2. चरण 1 से 10-15 दिन के बाद, एफएल-सीआरपी को उसी गांव में जाकर बचत और क्रेडिट भाग को कवर करना चाहिए।
 
• 3. चरण 2 से 10-15 दिनों के बाद, FLCRP को उसी गाँव में जाकर बीमा और पेंशन




स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी की पूरी प्रक्रिया

 
. प्रतिभागियों का 1 बैच गांवों के सभी एसएचजी सदस्य होंगे
 
1 बैच को 3 चरणों में कवर किया जाएगा, प्रत्येक चरण में 1 दिन (3-4 घंटे) शामिल होंगे। (कुल दिन: 3*1= एक बैच के लिए 3 दिन)।
 
एफएल सीआरपी की एक टीम 3 दिनों में एक गांव को कवर करेगी।
 
•एफएल सीआरपी की एक टीम एक महीने में 3 गांवों को कवर करेगी (9 दिन एफएल सीआरपी द्वारा एक महीने में दिया . जाएगा)। यह मिशन की आवश्यकता के अनुसार भिन्न हो सकता है।




स्वयं सहायता समूह में FLCRP सखी को मानदेय कितना मिलता है

प्रति दिन
 
बाहरी यात्रा – यात्रा भत्ता
 
(बस किराया / ट्रेन किराया (द्वितीय श्रेणी स्लीपर / ।। स्तरीय एसी) / ऑटो रिक्शा) (वास्तविक के रूप में)
 
राशि (रूपये में)
 
*रु. 277/- प्रति दिन
 
प्रति माह 1000 रुपये की अधिकतम सीमा
 
 

Join the Conversation

2 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.