प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ऐलान,स्वयं सहायता समूह की महिलाएं प्रयागराज कार्यक्रम में जाएंगी

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ऐलान स्वयं सहायता समूह की महिलाएं प्रयागराज कार्यक्रम में जाएंगी

स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के लिए खुशखबरी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का ऐलान स्वयं सहायता समूह की महिलाएं  प्रयागराज कार्यक्रम में जाएंगी
 
 

 

स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी निकलकर सामने आ रही है 5 दिसंबर को ही प्रयागराज कार्यक्रम में जाने के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से सभी जुड़ी समूह की महिलाओं को शामिल किया गया है राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में जुड़ी समूह की महिलाएं जो पोषाहार का काम कर रही हैं सामुदायिक शौचालय का काम कर रही है बीसी सखी का काम कर रही हैं उन सभी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को आने का आदेश लखनऊ कार्यालय द्वारा निर्देश जारी कर दिया गया है उन सभी समूह की महिलाओं को प्रयागराज के कार्यक्रम में जाना अनिवार्य है प्रत्येक समूह से महिलाएं जाएंगी

 
 


स्वयं सहायता समूह की कौन-कौन सी महिलाएं प्रयागराज कार्यक्रम में जाएगी 

 
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के जिला मिशन अधिकारियों ने बताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के प्रयागराज कार्यक्रम में जाने के लिए सभी समूह की महिलाओं को सूचना दे दी गई है स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को इस कार्यक्रम में जाना अनिवार्य है चाहे वह किसी भी पद पर कार्य करती हो जैसे बीसी सखी के पद पर कार्य करती हो,सामुदायिक शौचालय के पद पर कार्य करती हो, महिला मेट की भर्ती हुई हो उसमें काम करती हो किसी भी पद पर काम करती हो प्रत्येक  स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को इस प्रयागराज कार्यक्रम में जाना अनिवार्य है
 

समूह की महिलाओं को बसों में जाने के लिए क्या-क्या सुविधाएं हैं

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को प्रयागराज में जाने के लिए बसों में क्या-क्या सुविधाएं उपलब्ध है आइए जानते हैं विस्तार से स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सुरक्षित रखा जाएगा बसों पर सीसीटीवी कैमरे लगे रहेंगे और आसपास के क्षेत्र के सभी पुलिसकर्मी भी मौजूद रहेंगे और साथ ही साथ किसी भी समस्या होने पर तुरंत निवारण किया जाएगा बैटरी चार्ज ख़त्म होने पर  20 मिनट पहले ही सूचना आ जाएगी और साथ ही साथ कोई व्यक्ति अगर दिव्यांग है तो उसके लिए भी सुविधा उपलब्ध है वह व्हीलचेयर से ऊपर जाएगा और चालक के सामने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज आती रहेगी ताकि वह देख सके कि किसी भी समूह की महिलाओं को कोई दिक्कत या परेशानी का सामना करना तो नहीं पढ़ रहा है 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.