DAY – National Rural Livelihood Mission स्वयं सहायता समूह की महिला ध्यान दें |भारत में कोरोना की तीसरी लहर की आहट शुरू हो चुकी है

 


स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को मेरे तरफ से नमस्कार आप सभी को हमारे प्रेरणा टीवी चैनल के तरफ से भी दीदी नमस्कार अगर अभी तक आपने हमारे प्रेरणा टीवी चैनल को सब्सक्राइब नहीं किया है तो जल्दी से जल्दी सब्सक्राइब कर ले क्योंकि आप सभी को डीएम से जुड़ी उसके साथ-साथ केंद्र सरकार के द्वारा जो भी योजनाएं चलाई जाएंगी सबसे पहले आप सभी को अवगत करा दिया जाएगा इसके लिए आप सभी को सबसे पहले हमारे प्रेरणा टीवी चैनल को सबस्क्राइब करना होगा अगर आप एक स्वयं सहायता समूह की महिलाओं है तो इस वीडियो को अनदेखा ना करें जरूर देखें जी हां वीडियो को अंत तक जरुर देखें कृपया सभी पेरेंट्स ध्यान दें UPA इस की अपील हो चुकी है और UPA इस की अपील भारत में ओ करो ना कि तीसरी लहर की आहट शुरू हो चुकी है तीसरी लहर डब्लू एचओ वास सरकार की ओर से ज्यादा खतरनाक होने की संभावना बताई गई है बच्चों को इससे सबसे अधिक खतरा बताया जा रहा है हमें हर हाल में अपने नौनिहालों को बचाने के लिए आवश्यक कदम उठाने होंगे कि हमें बच्चों को स्कूल भेजना तो दूर की बात है बच्चों को ट्यूशन भी हमें खुद या ऑनलाइन व्यवस्था करके ही बढ़ाने पर ध्यान देने की आवश्यकता होगी कि स्थितियां जब तक कंट्रोल में ना हो हम बच्चों को घर के बाहर खेलने या waste पार्टी शादी पार्टी या ऐसा कहीं हमें किसी भी मिश्रित जहां से दूर रखने की बेहद आवश्यकता होगी हमें इससे लड़ना है पर सुरक्षा चक्र के साथ घर पर ही जी हां घर पर भी सभी जितना हो सके आपस में दूरी बनाकर रखें परिवार में सभी को गर्म पानी पीने की आदत बनानी होगी ठंडी चीजों का सेवन रोकना होगा घर के जिम्मेदार बड़े व्यक्ति जब घर से बाहर जाकर वापस आई तो अपने खुद अपने आप को बाहर की सेंटेज करें जिम्मेदार व्यक्ति जो बाहर रहेंगे उनके मार्फत ही वायरस के घर में प्रवेश करने की संभावना अधिक कि इसके लिए ऐसे व्यक्ति जो घर से बाहर होने पर भी हर सावधानी बरतें

और UPA इस लगातार आपके बच्चों के विद्यालय से आपके हक के लिए संघर्ष हेतु मंथन में जुटी हुई है तो निश्चित तौर पर अगर आप सब पेरेंट्स किया सकता पड़ी तो एक बड़े आंदोलन में आपको आने के लिए पूर्व सूचित किया जाएगा यहां पर आपको अब इस बात का ख्याल रखना होगा कि आपकी बार जी हां अब की बार आप टीम UPA इस के आव्हान पर अपने आवश्यक कार्यों को छोड़कर भी आएंगे तो है क्योंकि टीम UPA इस केस था कि लगातार ने स्वार्थ अपने बच्चों जी हां आपके बच्चों के हक के लिए संघर्ष कर रहे हैं कि बच्चों को जान जोखिमों से है बचाना व संघर्ष कर है अपने हक को भी है पाना है कि आप सभी विधियों से निवेदन है कि आप सभी अभिभावक हित में Share अवश्य करें ज्यादा से ज्यादा सभी ग्रुपों में शेयर करें और निधियों को जानकारी दें यह बहुत ही जरूरी है सावधान हो जाइए जहां सभी समुद्री भाइयों से निवेदन है कि सभी लोग सावधान हो जाइए अगस्त में ओ करो ना कि तीसरी लहर की चेतावनी साफ फ़ीसदी बच्चे हो सकते हैं पॉजिटिव अ कि राज्य में अगस्त माह में करो ना कि तीसरी लहराने की चेतावनी जारी की गई है इसे लेकर तैयारियां तेज कर दी गई है जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से टाटा मुख्य अस्पताल दिए मैच टाटा मोटर्स अस्पताल व टिनप्लेट अस्पताल को पत्र लिखकर अलर्ट किया गया है कि राज्य में अगस्त माह में को रोना की तीसरी लहराने की चेतावनी जारी की गई है इसे लेकर तैयारी तेज कर दी गई है जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से टाटा मुख्य अस्पताल टीएमएच टाटा मोटर्स अस्पताल व टिनप्लेट अस्पताल को पत्र लिखा अलर्ट किया गया है साथ ही तैयारी से संबंधित पूरी रिपोर्ट तलब की गई है इस स्थिति से निपटने के लिए अभिषेक करनी होगी तैयारी विभाग की ओर से भेजे गए पत्र में कि वरिष्ठ वैज्ञानिकों के अनुसार 20 के तीसरे चरण की आशंका और चेतावनी जो भारत को अगस्त 2002 कई के आसपास प्रभावित कर सकती है मैं इसमें मुख्य रूप से बच्चे अब बड़े पैमाने पर प्रभावित होंगे इसलिए ऐसी स्थिति से निपटने के लिए पहले से तैयारी जरूरी है इस संदर्भ में विभाग को भी सूचित कर दिया गया है कि इससे निपटने को उनके यह क्या-क्या सुविधाएं मौजूद है ताकि अवसर ताकि उस पर आगे की कार्रवाई की जा सके इसकी समीक्षा के लिए बहुत जल्द ही एक बैठक बुलाई जाएगी इधर महात्मा गांधी मेमोरियल एमजीएम मेडिकल कॉलेज अस्पताल बारीडीहा स्थिति मसीही अस्पताल भी तैयारी शुरू कर दी है ताकि अधिक से अधिक बच्चों की जान बचाई जा सके हैं भी बढ़ानी होगी 150 से 200 पीआईसीयू बेड तीसरी लहराने तक अधिक से अधिक व्यस्कों का टीकाकरण हो चुका होगा वहीं कुछ लोग वैसे भी होंगे जिसके शरीर में एंटीबॉडी बन चुकी होगी कि ऐसे में वाइरस का अटैक बच्चों पर अधिक होगा कारण कि वे न तो वैक्सीन लिए हैं और ना ही उनके शरीर में व्यस्त को जैसी एंटीबॉडी बना है मार्क्स भी नहीं पहनते हैं को सबसे चिंता की बात यह है कि वे अपनी परेशानी बता भी नहीं पाएंगे ऐसे में बिना लक्षण वाले बच्चों में को रोना की पहचान करना काफी मुश्किल होगा जब बच्चों की स्थिति गंभीर होगी तो वह अस्पताल पहुंचेंगे इस दौरान अगर उन्हें बेहतर चिकित्सा नहीं मिली तो उनकी जान बचाना मुश्किल होगी विशेषज्ञों के अनुसार तीसरी यह से निपटने के लिए को जमशेदपुर में बच्चों के लिए 150 से 200 वेट का सीआईसी ओए पीडि़त से एक है थे इंटेंसिव केयर यूनिट होना जरूरी है फिलहाल पूरे शहर के अस्पतालों में मिला दिया जाए तो 20 से 22 पीआईसीयू है और दूसरी लहर में 927 बच्चे हुए पांच क्यों पूर्वी सिंहभूम जिले में दूसरे शहर की शुरुआत 28 मार्च से हुई है तब से लेकर सोलह मई तक यानि 50 दिन में 927 बच्चे संक्रमित हुए हैं वहीं पहली लहर में यानी मई 2020 सेव अप्रैल 2021 तक 4944 बच्चे संक्रमित व्यक्ति दूसरी लहर में बच्चों की संख्या तेजी से बढ़ी है विशेषज्ञों के अनुसार तीसरे घर में 50 से 60 सिर्फ बच्चे ही शामिल होंगे जिससे निपटना मुश्किल होगा तो सभी से निवेदन है कि अपने आपको बचाए और अपने बच्चों को भी संभाल के रखिए कम से कम बाहर निकली और बच्चों को निकलने और अपने बच्चों को जरूर करें ज्यादा से ज्यादा कोशिश करें कि अपने बच्चों को बाहर ना जाने हां जान है तू जहां ने तो चलिए दे दी आज की वीडियो में बस इतना ही अगर आपको हमारा वीडियो पसंद आए तो लाइक शेयर जरूर करें आप सभी भाइयों से निवेदन करना चाहूंगी कि जितने आपके पास टैग व है व्हाट्सएप ग्रुप है सब में इस वीडियो को जरूर जरूर शेयर करें और हमारे चैनल को सब्सक्राइब करें या जीविका धन्यवाद है

Leave a comment

Your email address will not be published.